Skip to content

Fire Extinguisher In Hindi – अग्निशामक कैसे यूज करना है ?

कही बार अग्निशामक हमारे सामने होने के बावजूद हम इसे दूर रहते है। आग की स्थिति में ये हमारी कमजोरी साबित हो सकती है। और बहुत बड़ा विनाश का कारण बन सकता है। दूर रहने का मुख्य कारण यही होता है की, हमें अग्निशामक के बारेमे ज्ञान नहीं है। Fire Extinguisher In Hindi के इस आर्टिकल विस्तृत से समझाया गया है।

फायर Extinguisher कितने प्रकार का है ? कैसे चलाना है ? कोनसा अग्निशामक कहा इस्तेमाल करना है ? ऐसे सभी सवालों के जवाब आपको यहाँ से मिलेंगे।

Fire Extinguisher का उपयोग करने के लिए हमें फायर का कोर्स करना जरुरी नहीं है। आग बुझाने के लिए Extinguisher चलाने का काम पर्टिकुलर एक डिपार्टमेंट का न समजा जाये। आग बुझाने की कोशिश करने की जिम्मेदारी जो मौके पे रहता है, उसकी है। एक छोटा सा समजदारी भरा कदम बहुत बड़े नुकशान को रोक सकता है।

 

What Is Fire Extinguisher In Hindi – अग्निशामक क्या है ? प्रकार एवं उपयोग ।

शरूआती आग या छोटी आग को बुझाने के लिए अथवा नियंत्रण में रखने के लिए बंध Pressuriesed वेसल आकर के उपकरण को फायर extinguisher कहते है। बेलन आकर के एक छोटे वेसल में आग बुझाने में उपयुक्त पदार्थ होता है। यह पदार्थ काआग पे छंटकाव करने से आग बुझ जाती है।

आग अलग – अलग प्रकार की होती है। आग के अलग – अलग क्लास दिए गए है। आग के प्रकार के आधार पर fire Extinguisher का इस्तेमाल होता है।

आग को बुझाने के लिए अग्निशामक बहुत ही उत्तम होता है।  बड़ी आर्गेनाइजेशन, संस्था, हॉस्पिटल और फैक्ट्री में इसका इस्तेमाल बहुत ज्यादा होता है।

कही पे भी आग की शरुआत छोटे तोर पे होती है। शरुआत के समय में ही उसे कण्ट्रोल कर लिया जाये तो, आग विकरार स्वरुप नहीं लेती। और हम बहुत बड़े नुकशान से बच सकते है।

कोनसे क्लास की आग पर कोनसा फायर extinguisher का इस्तेमाल होगा ये जानना बहुत जरुरी है। वरना आग बुझाने की हमारी कोशिश नाकाम रह सकती है। ऊपर से बड़ा नुकशान हो सकता है।

 

Fire Extinguisher Meaning In hindi  – अग्निशामक 

फायर एक्सटीन्गुइशेर को हिंदी में अग्निशामक कहा जाता है। इसे हम छोटी आग बुझाने वाला यन्त्र भी कह सकते है।

 

आग  कैसे लगती है ? और कैसे बुझाई जाती है ?

आग एक रासायनिक प्रक्रिया है। आग लगने के लिए पदार्थ ( ईंधन ), तापमान, और ऑक्सीज़न की जरुरत होती है। ये तीनो के सही मात्रा में मिल जाये तो ये आग का स्वरुप ले लेता है।

तापमान, ईंधन और ऑक्सीज़न ये तीनो के संगम को फायर ट्राइएंगल भी कहते है।

आग बुझाने के लिए हमें तीन में से किसी एक को दूर करना है।

पदार्थ – जलने वाला पदार्थ यदि दूर हो जाये तो आग बंध हो जाएगी। याने आग का खोराक जलने वाला पदार्थ है। इस खोराक को हम हटा दे तो आग बुझ जाएगी। इसे कहते है आग को भूख से मारना।

तापमान – पदार्थ और ऑक्सीज़न के बाद आग लगने के लिए निश्चित तापमान चाहिए। यदि हम इस तापमान को कम कर देते है, तो आग बुझ जाएगी। जैसे हम किसी आग पे पानी छिड़कते है तो, एक तरह से हम तापमान ही कम करते है। आग बुझाने के लिए दुनियामे सबसे ज्यादा इस्तेमाल  होने  वाला तरीका है।

ऑक्सीज़न – फायर ट्रायंगल में ऑक्सीज़न का रोल बहुत बड़ा है। सबसे बड़ी बात यह है की फायर ट्रायंगल में, पदार्थ हमें दीखता है। तापमान को हम महसूस कर सकते है। पर ऑक्सीज़न हमें दीखता नहीं है। यह हमेशा हवा में रहता है। इसको दूर कर के हम आग को आसानी से बुझा सकते है।

Fire Extinguisher  का काम तीनो मे से किसी एक को दूर करना है। और ये काम अग्निशामक बहुत बेहतरीन तरीके से करता है। इसीलिए इसका उपयोग बहुत ज्यादा होता है।

 

Types of Fire Extinguisher in Hindi- अग्निशामक के प्रकार 

 

फायर एक्सटीन्गुइशेर का उपयोग आग को बुझाने के लिए होता है। आग बुझाने की सरलता के लिए उसे अलग – अलग क्लास में बाट दिया है। अलग – अलग क्लास की आग को बुझाने के लिए अलग – अलग फायर एक्सटीन्गुइशेर का इस्तेमाल होता है। और इसी के आधार पर उसके प्रकार दिए गए है ।

Fire Extinguisher के प्रकार एवं कोनसा  क्लास की फायर के लिए कोनसा अग्निशामक का इस्तेमाल होता है, इसे हम निचे के टेबल में देख सकते है।

Classification Of Fire Extinguisher In Hindi

Sr. No. Fire Extinguisher के प्रकार फायर क्लास और आग बुझाने की क्षमता
1 वाटर टाइप फायर एक्सटीन्गुइशार क्लास – A  लकड़ा, रबर, प्लास्टिक
2 फॉर्म टाइप फायर एक्सटीन्गुइशार क्लास – B  पेट्रोल, डीजल, लिक्वीड
3 डी सी पी ( DCP) ड्राई केमिकल पाउडर एक्सटीन्गुइशार क्लास – C  गैस CNG, PNG
4 CO2 कार्बोन डाइऑक्साइड फायर एक्सटीन्गुइशार क्लास – D  इलेक्ट्रिक फायर  शार्ट सर्किट
5 वेट केमिकल फायर एक्सटीन्गुइशार क्लास – E किचिन फायर

 

1 –  Water Type Fire Extinguisher

किसी भी फायर Extinguisher का उपयोग आग को बुझाने के लिए होता है। पर कोनसा अग्निशामक कहा उपयोग करना है, इसका हमें ज्ञान होना जरुरी है।

वाटर टाइप फायर एक्सटीन्गुइशेर क्लास – A  की आग बुझाने के लिए इस्तेमाल होता है। इस प्रकार के फायर एक्सटीन्गुइशेर अलग – अलग रेंज में उपलब्ध है। आग बुझाने का जरिया इसमें तापमान को कम करना है।

वाटर एक्सटीन्गुइशार में बहुत ही हाई प्रेशर से कूलिंग मीडिया बोतल में भरा हुआ रहता है। बोत्तल के ऊपरी हिस्से में क्लैंप पिन और हॉर्स होता है। पिन को निकाल कर कूलिंग मीडिया का प्रेशर से छंटकाव किया जाता है। कूलिंग के कारण तापमान कम हो जाता है और आग बुझ जाती है ।

Water Fire Extinguisher

Fire Extinguisher in Hindi

वाटर टाइप फायर एक्सटीन्गुइशार कहा उपयोग करना है।

  • आर्गेनिक मटेरियल मि आग बुझा ने के लिए इस्तेमाल होता है ।
  • लकड़ी एवं प्लास्टिक की आग बुझा सकते है ।
  • कागज, पुठ्ठे, कप बोर्ड जैसे पदार्थ की आग बुझाई जाती है ।
  • कोयला, फैब्रिक्स, और टेक्सटाइल मटेरियल की आग बुझाई जाती है।

वाटर टाइप फायर एक्सटीन्गुइशार कहा उपयोग नहीं करना है।

  • ज्वलनशील लिक्वीड की आग में इस्तेमाल नहीं करना है।
  • इलेक्ट्रिक आग में इसका इस्तेमाल नहीं करना है।
  • ज्वलनशील गैस की आग में इस्तेमाल नहीं करना है।
  • किचन में लगने वाली आग में इसका इस्तेमाल नहीं होता।

 

2- Form Type Fire Extinguisher

फॉर्म प्रकार के Extinguisher में सिलिंडर के अंदर फॉर्म होता है। प्रेशर से भरा हुआ फॉर्म आग से ऑक्सीज़न को दूर करता है। आग के ऊपर फॉर्म का लेयर बन जाता है। ये लेयर ऑक्सीज़न को तापमान और पदार्थ से दूर कर देता है। जिसके कारण आग बुझ जाती है।

फॉर्म टाइप के एक्सटीन्गुइशेर पर क्रीम कलर का स्टीकर लगा हुआ रहता है। और उसपे फॉर्म लिखा हुआ भी रहता है।

इस प्रकार के अग्निशामक 7.5 to 9 मीटर की दुरी से opearate किया जाता है।

Form Fire Extinguisher

Fire Extinguisher in Hindi

 

Form Type Fire Extinguisher कहा इस्तेमाल होता है ?

  • फॉर्म एक्सटीन्गुइशार का इस्तेमाल क्लास – B प्रकार की आग को बुझाने के लिए किया जाता है।
  • इस प्रकार के अग्निशामक से फ्लेम्ब्ले लिक्वीड की आग बुझाई जाती है।
  • पेट्रोल, डीजल, नेप्था जैसे ज्वलनशील पदार्थ की आग बुझाई जाती है।
  • लकड़ी, कागज, प्लास्टिक जैसे पदार्थ की आग बुझाई जाती है।

Form Type Fire Extinguisher का इस्तेमाल नहीं करना है ।

  • किचन में लगने वाली आग, vegitable आयल की आग में इसका इस्तेमाल नहीं करना है।
  • इलेक्ट्रिकल उपकरण की आग में इसका इस्तेमाल नहीं करना है।
  • ज्वलनशील मेटल जैसे कॉपर, अल्लुमिनियम, सोडियम जैसी धातु की आग में इसका इस्तेमाल न करे।
3- Dry Chemical Powder ( DCP) Fire Extinguisher

इस प्रकार के Extinguisher में सोडियम बाई कार्बोनेट ( KHCO3 )  पाउडर का इस्तेमाल होता है। सिलिंडर आकर के इस अग्निशामक 5kg, 10kg, 25kg और 50kg में उपलब्ध होता है। DCP प्रकार के फायर अग्निशामक के ऊपर ब्लू कलर का स्टीकर लगा रहता है।

DCP प्रकार के फायर Extinguisher  ABC तीनो क्लास की आग बुझाने में इस्तेमाल होता है। इसीलिए इसे ABC फायर Extingusher भी कहते है।

DCP Fire Extingusher

Fire Extinguisher in Hindi

 

DCP Fire Extingusher का उपयोग कहा करना है ?

  • DCP  प्रकार का अग्निशामक तीनो क्लास (ABC) की आग बुझाने किया जाता है।
  • लकड़ी कागज, प्लास्टिक जैसे आर्गेनिक पदार्थ की आग बुझा सकते है।
  • ज्वलनशील लिक्वीड पेईन्ट, पेट्रोल, केरोसिन की आग बुझाने में किया जाता है।
  • ज्वलनशील गैस, पेट्रोलियम गैस, CNG , PNG  में किया जाता है।
  • 1000 वाल्ट से कम इलेक्ट्रिक सप्लाई वाली आग में DCP का उपयोग कर सकते है।

DCP Fire Extingusher का उपयोग कहा नहीं करना है।

  • बंध कमरे में या बिल्डिंग में इसका उपयोग नहीं करना है। क्युकी, DCP धुएं की तरह फ़ैल जाता है। और हमें आगे कुछ दिखाई नहीं देता।
  • जहा इलेक्ट्रिसिटी का वोल्टेज लेवल 1000 वाल्ट से ज्यादा है, ऐसी जगह पे DCP का इस्तेमाल नहीं करना है।

 

4- CO2 ( Carbon Dioxide ) Fire Extinguisher

CO2 का फुल फॉर्म कार्बन डाई ऑक्साइड गैस  होता है। ये अग्निशामक में कार्बोन डायोक्साइड गैस का उपयोग आग बुझाने के लिए किया जाता है। कार्बोन डायोक्साइड गैस नॉन कंडक्टिव और नॉन कोरोसिव है। सिलिंडर के उप्पेर ब्लैक कलर का स्टीकर पे CO2 लिख हुआ रहता है।

CO2 फायर एक्सटीन्गुइशेर का उपयोग पद्धति से किया जाता है। सबसे पहले इसमें से सेफ्टी पिन को निकालना पड़ता है। फायर सिलिंडर का नोज़ल आग के सतह की तरफ रखना है।

CO2 ( Carbon Dioxide) Fire Extinguisher

Fire Extinguisher in Hindi

CO2 Fire Extenguisher कहा उपयोग होता है ?

  • इलेक्ट्रिक फायर में सबसे बेहतरीन अग्निशामक के रूप में  CO2 का इस्तेमाल होता है।
  • सभी प्रकार के ज्वलनशील लिक्वीड जैसे पेट्रोल , डीजल  में भी इस्तेमाल होता है।

CO2 Fire Extinguisher कहा उपयोग नहीं करना है।

  • ज्वलनशील मेटल जैसे कॉपर, अल्लुमिनियम में इसका उपयोग नहीं करना है।
  • लकड़ा पेपर, टेक्सटाइल के मटेरियल में co2 का इस्तेमाल नहीं करना है।
  • किचन की आग में कार्बोन डायोक्साइड का इस्तेमाल नहीं करना है।

 

5- Wet Chemical Fire Extinguisher

वेट केमिकल में पोटासियम का इस्तेमाल होता है। ये बहुत ही ठंडा होता है। ये तपमान को डाउन करता है। दूरसे फायर एक्सटीन्गुइशेर में आग लगने के तीन में से किसी एक को दूर करके आग बुझाई जाती है।

इस प्रकार के सिलिंडर पे पिले कलर का स्टीकर होता है। उसपे वेट केमिकल लिखा हुआ रहता है।

वेट केमिकल फायर एक्सटीन्गुइशेर में कूलिंग किया जाता है। पोटासियम के स्प्रे से तापमान कम हो जाता है और आग बुझ जाती है।

Wet Chemical Fire Extinguisher

Fire Extinguisher in Hindi

Wet Chemical Fire Extinguisher कहा इस्तेमाल करना है।

  • किचन आग के लिए ये अग्निशामक सबसे बेहतर है।
  • कुकिंग आयल वेजिटेबल आयल की आग बुझाने में इस्तेमाल होता है।
  • आर्गेनिक मटेरियल, पेपर, प्लास्टिक, लकड़ी की आग बुझा सकते है।

Wet Chemical Fire Extinguisher कहा इस्तेमाल नहीं करना है।

  • इलेक्ट्रिकल फायर में वेट केमिकल का इस्तेमाल नहीं करना है।
  • ज्वलनशील गैस CNG , PNG, एलपीजी में इसका यूज नहीं करना है।
  • ज्वलनशील लिक्वीड नेप्था, पेंट , पेट्रोल की आग इससे नहीं बुझा सकते।
  • फ्लेम्ब्ले मेटल आयरन, कॉपर, अल्लुमिनियम में इसका इस्तेमाल नहीं कर सकते।

 

How To Use Fire Extinguisher – अग्निशामक को कैसे उपयोग किया जाता है ?

फायर एक्सटीन्गुइशार को उपयोग करने की एक पध्धति है। इसे उपयोग करने का सही तरीका इस्तेमाल करना चाहिए। हम अकस्मात् को रोकने के लिए इसका उपयोग करते है। इसीलिए, उपयोग करने से पहले हमें इसकी सम्पूर्ण जानकारी होना जरुरी है। 

बिना जानकारी का उपयोग किया हुआ अग्निशामक बड़ी मुशीबत भी बन सकता है। 

इंडस्ट्रीज में फायर एंड सेफ्टी डिपार्टमेंट के द्वारा इसकी ट्रेनिंग दी जाती है। फैक्ट्री के सभी कर्मचारी को प्रैक्टिकल तालीम के लिए Schedule  बनाया जाता है। सभी प्रकार की आग के लिए किस तरह से फायर एक्सटीन्गुइशार का इस्तेमाह होता है, उसकी सम्पूर्ण जानकारी दी जाती है।

सभी प्रकार के Extinguisher के बोतल लगभग एक जैसे होते है। इसीलिए, ऑपरेशन करने की रीत लग भाग एक जैसी है। 

Fire  Extinguisher का  उपयोग करने से पहले हमें ये ज्ञान होना जरुरी है, की कोनसा अग्निशामक कोनसी आग पे इस्तेमाल होता है। हड़बड़ाहट में गलत सिलिंडर का उपयोग हो जाता है तो, हमारी मुश्किलें कम होने की जगह बढ़ सकती है।

 

1 – Fire Extinguisher चलाने से पहले खुद सुरक्षा जाँच ले 

फायर एक्सटीन्गुइशेर को ऑपरेट करने के लिए चार स्टेप्स है।

1- पिन को निकलना – किसी भी अग्निशामक के ऊपर पिन रहती है। पिन निकाल ने के बाद ही Extinguisher ऑपरेट होगा।

2- सिलिंडर की नोज़ल को आग की तरफ रखना है। अपने शरीर को अग्निशामक पदार्थ से दूर रखना है।

3- एक हाथ में बोतल और एक हाथ में होज होना चाहिए। जिसे आसानी से स्प्रेड कर सके।

4- बोतल का हैंडल को दबाने से होज से आग बजाने वाला पदार्थ प्रेशर से बहार आएगा।

5- आग बुझाने वाला एजेंट आग की निचे की सरफेस पे स्प्रेड करना है। और ये आग सम्पूर्ण बुझ जाने तक करना है।

6- इसमें किसी भी तरह की लापरवाही नहीं करनी है। 

 

Parts Of Fire Extinguisher – अग्निशामक के भाग और उसका काम 

 

Cylindrical Tank – सभी प्रकार के अग्निशामक में सिलिंड्रिकल टैंक एक जैसी ही होती है। फायर एजेंट ( आग बुझाने वाले तत्त्व ) इस टैंक में प्रेशर से भरे होते है। इसे हैवी स्टील से बनाया जाता है। इसीलिए, वजन में भारी होता है। समयांतर पे ज्यादा प्रेशर से इसे चेक किया जाता है।

फायर Extinguisher का सिलिंडर लाल कलर में ही होता है। इसके ऊपर हिस्से में वाल्व एसेम्ब्ली फिट होती है।

Valve – वाल्व एसेम्ब्ली fire Extinguisher के ऊपर के हिस्से में लगायी जाती है। आग बुझाने वाला तत्व वाल्व से ही कण्ट्रोल होता है।

Pull Pin – पुल पीन को लॉकिंग पिन भी कहा जाता है। ऑपरेटिंग लीवर के साथ ये पीन कनेक्टेड होती है। जब तक पिन निकालेंगे नहीं, तब तक अग्निशामक ओपराते नहीं कर पाएंगे।
फायर Extinguisher का उपयोग करने के लिए ये पिन निकलना जरुरी है। अनचाहे ऑपरेशन में ये पिन बोत्तल की सुरक्षा का काम करता है।

Carry Handle – Fire Extinguisher को एक जगह से दूसरी जगह ले जाने के लिए ऑपरेटिंग हैंडल का उपयोग होता है। हैंडल से ही उसे पकड़ा जाता है।

Operating Lever – ऑपरेटिंग लीवर को ऑपरेट करने के लिए पुल पिन को निकालना पड़ता है। पिन निकालने के बाद ये लीवर ऑपरेट होगा। लीवर ऑपरेट होने के बाद फायर एजेंट प्रेशर से बहार आएगा।

Pressure Gauge – fire Extinguisher का ये भाग बहुत महत्व का है। कोई भी अग्निशामक प्रेशर के साथ भरा हुआ होता है। सिलिंडर में आग बुझाने वाले तत्त्व का प्रेशर बना रहना चाहिए। एक सिलिंडर में एजेंट का कितना प्रेशर है, ये दिखाने के लिए प्रेशर गेज का इस्तेमाल होता है।

Parts of Extinguisher

Fire Extinguisher in Hindi

 

प्रेशर गेज में एक तरफ रेड और एक तरफ ग्रीन मार्किंग होती है। पॉइंटर ग्रीन मार्किंग पे होता है, तो प्रेशर ठीक माना जाता है। यदि पॉइंटर रेड मार्किंग की तरफ होता है, तो बोतल को डिस्चाज माना जाता है।

CO 2 ( कार्बन डायोक्साइड ) प्रकार के फायर एक्सटीन्गुइशेर में प्रेशर गेज नहीं होता।

Discharge Hose – जब हम फायर Extinguisher को ऑपरेट करते है, तब डिस्चार्ज होज हमारे एक हाथमे होता है। ये वो होज है जहासे आग बुझाने वाला तत्त्व प्रेशर से बहार निकलता है। जिसे हम आग बुझाने में इस्तेमाल करते है।

Instruction Lable or Data Plate – किसी भी फायर एक्सटीन्गुइशेर की name plate ही उसकी जनम कुंडली मानी जाती है। name प्लेट पे कोनसे प्रकार का सिलिंडर है ? कहा उपयोग कर सकते है ? इसे कैसे इस्तेमाल करना है ? ये सभी प्रकार की माहिती रहती है।

 

आकाश से बिजली क्यों गिरती है ?

What is 5s In Hindi – 5s सिस्टम क्या है ?

 

Fire Extinguisher In Hindi के इस आर्टिकल में अग्निशामक से सम्बंधित सभी जानकारी प्रदर्शित की गयी है। इसके आलावा आग क्या है ? आग के कितने प्रकार है ? ये जानने के लिए यहाँ क्लीक करे ।

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.