HIndi

Facts About Ram Temple: राम मंदिर के बारे में हैरान करने वाली रोचक बाते – Hindi Fact News

दोस्तों हिंदुओं की वर्षों की कड़ी मेहनत और तपस्या के बाद अब अयोध्या में राम मंदिर बन रहा है जिसकी पहली मजिल का निर्माण कार्य अब पूरा हो चुका है और अब इसका उद्घाटन समारोह भी आयोजित होने वाला है इसके बाद इस मंदिर की दूसरी मंजिल का निर्माण कार्य शुरू होगा और दूसरी मंजिल का निर्माण कार्य समाप्त होने के बाद तीसरी मंजिल का निर्माण कार्य शुरू होगा दोस्तों अयोध्या का राम मंदिर अपने आप में ही पूरी नगरी है.

क्योंकि अयोध्या का राम मंदिर भारत का सबसे बड़ा मंदिर है जो की काफी ज्यादा सुंदर और अद्भुत नक्काशी से बनाया गया है क्योंकि इस मंदिर की नक्काशी को आज के आधुनिक तरीके से नहीं बनाई गई है बल्कि इस मंदिर की नकाशी को प्राचीन काल की नकाशी की तरह ही बनाया गया है इस मंदिर की दीवारों पर हिंदू धर्म के देवी देवताओं की मूर्तियां तारासी गई है और इस मंदिर को बनाने में कहीं भी किसी भी लोहे और स्टील का उपयोग नहीं किया गया है.

My contact number

और दोस्तों इस मंदिर को इतना ज्यादा मजबूत बनाया गया है कि यह मंदिर बड़े से बड़े भूकंप को भी झेल सकता है और इस मंदिर से लाखों भारत के लोगों को रोजगार मिलेगा तो चलिए दोस्तों आज की इस पोस्ट( Facts About Ram Temple ) में हम जानते हैं राम मंदिर की कुछ अनोखी और अद्भुत बातों के बारे में |

Facts About Ram Temple, राम मंदिर के बारे में हैरान करने वाली रोचक बाते

My contact number

दोस्तों हिंदुओं के कड़े परिश्रम के बाद अब अयोध्या में राम मंदिर का निर्माण कार्य पूरा होने ही वाला है यह भारत का सबसे बड़ा मंदिर है जो कि अपने आप में ही एक पूरा नगर  है |

Table of Contents

My contact number

1. मंदिर के निर्माण में नहीं हुआ है लोहे और स्टील का उपयोग

दोस्तों राम मंदिर को बनाने के लिए किसी भी प्रकार की लोहे की चीज या फिर स्टील के चीज या फिर लोहे के तारों का उपयोग नहीं किया गया है बल्कि पूरे के पूरे प्रभु श्री राम जी के मंदिर को बड़े-बड़े पत्थरों से बनाया गया है इन बड़े-बड़े पत्थरों को विश्वभर की अलग-अलग जगह से लाया गया है और इन्हें केवल कंक्रीट की सहायता से ही आपस में जोड़ा गया है और इन बड़े-बड़े पत्थरों पर हमारी भारतीय संस्कृति के करोड़ हिंदू देवी देवताओं की मूर्तियां तरसी गई है जो की दिखने में बहुत ही ज्यादा अद्भुत लगता है |

2. 200 फीट नीचे रखा गया है टाइम कैप्सूल

दोस्तों राम मंदिर के नीचे करीब 200 फीट नीचे एक टाइम कैप्सूल रखा गया है जिसमें राम मंदिर के बारे में पूरी जानकारी लिखी गई है तथा हिंदुओं के कुछ ग्रंथ रखे गए हैं और यह टाइम कैप्सूल इतना ज्यादा पावरफुल शक्तिशाली है कि चाहे कुछ भी हो जाए यह टाइम कैप्सूल हजारों वर्षों तक भी नष्ट नहीं होगा और इस टाइम कैप्सूल में हिंदुओं के ग्रंथ और राम मंदिर के बारे में जानकारी लिखने के पीछे कारण यह है.

My contact number

कि ताकि लोगों को भविष्य में यह पता चल सके कि यहां पर प्रभु श्री राम का ही मंदिर था और यहां पर कोई मस्जिद नहीं थी यहां पर प्रभु श्री राम साक्षात विराजमान थे ये उनकी नगरी थी ताकि वापस किसी भी वजह से दोबारा हिंदुओं को अपना खुद का मंदिर बनवाने में इतना संघर्ष न करना पड़े ।

3. राम जी की होगी दुनिया की सबसे ऊंची मूर्ति

दोस्तों राम मंदिर की मूर्ति भारत की तो सबसे बड़ी मूर्ति है ही इसके साथ ही यह विश्व की भी सबसे बड़ी मूर्ति भी होने वाली है हालांकि विश्व की सबसे ऊंची मूर्ति हमारी स्टैचू ऑफ यूनिटी यानी कि सरदार वल्लभ भाई पटेल जी की मूर्ति है लेकिन अब विश्व की सबसे मूर्ति हमारे ही देश की प्रभु श्री राम की मूर्ति होने वाली हैं दुनिया की सबसे ऊंची मूर्ति स्टैचू ऑफ यूनिटी की लंबाई महज 597 फिट है वही प्रभु श्री राम की मूर्ति जो की सरयू नदी के किनारे स्थापित की जाएगी उसकी लंबाई 827 फिट होगी.

जो की दुनिया की सबसे ऊंची मूर्ति होगी जिसे बनाने के लिए 3 करोड़ से ज्यादा रुपए का खर्च आएगा जो की पूरी तरह से तांबे और अलग-अलग धातुओं से बनाई जाएगी यानी की राम मंदिर के निर्माण के साथ ही भारत दुनिया की सबसे ऊंची मूर्ति का रिकॉर्ड जो की भारत के नाम दर्ज है ये अपना रिकॉर्ड भारत खुद ही तोड़कर एक बार फिर दुनिया की सबसे ऊंची मूर्ति स्थापित करेगा।

आपको ये पोस्ट भी जरुर पढ़नी चाहिए:-

अगर कोई व्यक्ति शेरनी का दूध पी ले तो क्या होगा

Real Horror Story In Hindi 2023

Top 50 + Animals Facts In Hindi

जापान से जुड़े 15 हैरान करने वाले रोचक तथ्य

4. राम मंदिर में जलेगी की दुनिया की सबसे बड़ी अगरबत्ती

दोस्तों राम मंदिर की पहली मंजिल लगभग बनकर तैयार हो ही चुका और अब 22 जनवरी को राम मंदिर का उद्घाटन होने वाला है और इस उद्घाटन समारोह में करीब 108 फीट लंबी अगरबत्ती चलाई जाएगी जो कि पूरे 45 महीनों तक राम मंदिर को सुगंधित करेंगे  जिसे बनाने के लिए गाय के गोबर का और शुद्ध देसी घी और हवन सामग्री का उपयोग किया गया है.

और भी बहुत सारी चीज इस अगरबत्ती में मिलाई गई है  इस अगरबत्ती को बनाने में 6 महीनों से ज्यादा का समय लगा है और यह दावा किया गया है कि यह अगरबत्ती राम मंदिर के अलावा आसपास के 15 से 20 किलोमीटर के दायरे में रहने वाले लोगों को भी सुगंधित करेगी मतलब कि इस अगरबत्ती की सुगंध राम मंदिर से 15 से 20 किलोमीटर दूर तक भी आएगी ।

5. राम मंदिर के 18 दरवाजे होंगे सोने के

दोस्तों अयोध्या के राम मंदिर का निर्माण कार्य अब पूरा होने ही वाला है इस मंदिर को तीन मंजिला बनाया गया है  जिसकी हर एक मंजिल की ऊंचाई 20 फुट है इस मंदिर में टोटल 44 दरवाजे लगाए गए हैं जिन्हें भारत की पौराणिक संस्कृति के आधार पर ही डिजाइन किया गया है.

जिसमें से 18 दरवाजे पूरी तरह से सोने से बनाए गए हैं  और इस मंदिर के शिखर को भी पूरी तरह से सोने का बनाया गया है और इस मंदिर के गर्भ ग्रह को भी पूरी तरह से 24 कैरेट गोल्ड से बनाया गया है और इस मंदिर में 392 खंबे होंगे है इस मंदिर को बहुत ही ज्यादा खास और अद्भुत तरीके से बनाया गया है।

Facts About Ram Temple, राम मंदिर के बारे में हैरान करने वाली रोचक बाते

6. कब पूरा होगा राम मंदिर का निर्माण

दोस्तों राम मंदिर का निर्माण कार्य फिलहाल अपनी प्रगति पर चल रहा है जिसकी पहली मंजिल का निर्माण कार्य लगभग पूरा हो ही चुका है और 22 जनवरी 2024 को राम मंदिर की पहली मंजिल का उद्घाटन किया जाएगा और श्री राम प्रभु की मूर्ति की प्राणप्रतिष्ठा की जाएगी इसके बाद दूसरी मंजिल का निर्माण कार्य शुरू होगा जो की 2024 में पूरी तरह से तैयार हो जाएगा और जब दूसरी मंजिल बनकर तैयार हो जाएगी.

तब प्रभु श्री राम के मंदिर की तीसरी मंजिल को तैयार किया जाएगा जो की 2025 में जाकर पूरी तरह से तैयार हो जाएगी मतलब कि इस पूरे मंदिर का निर्माण कार्य साल 2025-26 में पूरा होगा लेकिन भक्तों के लिए यह मंदिर 22 जनवरी 2024 को पूरी तरह से खोल दिया जाएगा |

7.कितनी एकड़ जमीन पर बनेगा राम मंदिर

दोस्तों राम मंदिर भारत का सबसे बड़ा मंदिर होने वाला है जो की कोई 10 या 20 एकड़ जमीन पर नहीं बनने वाला है बल्कि यह पूरा मंदिर 107 एकड़ जमीन पर बनाया जाएगा हालांकि पहले यह मंदिर केवल 70 एकड़ जमीन पर ही बनने वाला था लेकिन बाद में मंदिर के ट्रस्ट के द्वारा आसपास के ट्रस्ट से जमीन को खरीदा गया और अब इस जमीन को 107 एकड़ कर दिया गया है और अब प्रभु श्री राम की नगरी 107 एकड़ जमीन पर बसने वाली है जो की मंदिर नहीं होगा बल्कि पूरी प्रभु श्री राम की नगरी होने वाली है।


8. कितना खर्चा आ रहा है मंदिर को बनने में

दोस्तों राम मंदिर का निर्माण कार्य अपनी प्रगति पर चल रहा है इसके निर्माण में 3500 कारीगर दिन-रात कड़ी मेहनत कर रहे हैं इसीलिए पहले इस मंदिर का बजट केवल 400 करोड रुपए ही था लेकिन बाद में इस मंदिर के बजट को बड़ाकर 1800 से 2000 करोड रुपए कर दिया गया है मतलब कि अब इस मंदिर को बनाने में 1800 से 2000 करोड रुपए का खर्च आने वाला है।

9.कितने करोड रुपए आए हैं दान

दोस्तों राम मंदिर के निर्माण कार्य में दुनियाभर के बहुत सारे श्रद्धालुओं ने दिल खोलकर दान दिया है अगर हम रिपोर्ट्स की बात करें तो राम मंदिर के निर्माण कार्य में करीब 900 करोड रुपए का दान भारत ही नहीं बल्कि दुनिया के अलग-अलग देशों से श्रद्धालुओं ने दान दिया है राम भूमि के निर्माण के लिए |

Facts About Ram Temple, राम मंदिर के बारे में हैरान करने वाली रोचक बाते

10. कैसे हैं राम मंदिर खास

दोस्तों राम मंदिर को बनाने के लिए किसी भी प्रकार के लोहे और स्टील का उपयोग नहीं किया गया है और ना ही लोहे और स्टील के तारों का उपयोग किया गया है बल्कि इस पूरे राम मंदिर को बड़े-बड़े पत्थरों को काटकर बनाया गया है और इससे भी ज्यादा हैरान करने वाली बात ये है कि इस पूरे मंदिर में लगने वाली हर एक ईट पर जय श्री राम का नाम लिखा गया है और दोस्तों इस मंदिर के निर्माण कार्य में भारत के अलग-अलग हिस्सों से सोने और चांदी की ईटे भी लाई गई है जिन्हें इस मंदिर के गर्भ ग्रह में लगाया गया है |

निष्कर्ष

दोस्तों में आशा करता हूं कि आपको राम मंदिर के बारे में यह अद्भुत बातें जरूर पसंद आई होगी मैंने आपको इस पोस्ट के अंदर बड़ी ही आसान भाषा में राम मंदिर के बारे में 10 बातें बताई है जिनके बारे में शायद ही इससे पहले आपको पता होगा इसीलिए अगर आपको यह पोस्ट अच्छी लगी हो तो अपने दोस्तों से इस पोस्ट( Facts About Ram Temple ) को जरुर शेयर करें बोलो जय श्री राम |

Show More

Related Articles

यौगिक किसे कहते हैं? परिभाषा, प्रकार और विशेषताएं | Yogik Kise Kahate Hain Circuit Breaker Kya Hai Ohm ka Niyam Power Factor Kya hai Basic Electrical in Hindi Interview Questions In Hindi