CBSE Class 10CBSE Class 11CBSE Class 12CBSE CLASS 9

हिमाचल प्रदेश मुख्यमंत्री सुखाश्रय योजना 2023 (Mukhyamantri

हिमाचल प्रदेश मुख्यमंत्री सुखाश्रय योजना 2023 (Mukhyamantri Sukhashraya Yojana Himachal Pradesh) मुख्यमंत्री सुखाश्रय योजना हिमाचल प्रदेश 2023, मुख्यमंत्री सुखाश्रय सहायता कोष योजना, सुख-आश्रय योजना, ऑनलाइन आवेदन, लाभ, पात्रता, दस्तावेज, अधिकारिक वेबसाइट, हेल्पलाइन नंबर, ताज़ा खबर, अंतिम तिथि, स्टेटस (Sukhashray Sahayata Kosh Yojana, Online Apply, Benefit, Eligibility, Documents, Official Website, Helpline Number, Latest News, Last Date, List, Status)

Mukhyamantari Sukh Aashray Yojana:- मुख्यमंत्री सुख आश्रय योजना, हिमाचल प्रदेश सरकार द्वारा राज्य के अनाथ बच्चों को मदद करने के लिए शुरू की गई है। इस योजना से राज्य के 6000 अनाथ बच्चों को सरकार गोद लेगी। उन बच्चों का पालन पोषण सरकार द्वारा किया जाएगा। साथ ही उनकी पढ़ाई, घर और शादी के लिए सभी प्रकार की सहायता दी जाएगी। मुख्यमंत्री सुख आश्रय योजना के तहत पात्र बच्चों को हर महीने पैसे भी मिलेंगे। Mukhyamantari Sukh Aashray Yojana से जुड़ी अधिक जानकारी के लिए आपको इस लेख को अंत तक पढ़ना होगा। क्योंकि आज हम मुख्यमंत्री सुख आश्रय योजना की पूरी जानकारी इस लेख में देंगे।

हिमाचल प्रदेश मुख्यमंत्री सुखाश्रय योजना 2023

योजना का नाममुख्यमंत्री सुखाश्रय योजना
अन्य नाममुख्यमंत्री सुखाश्रय सहायता कोष योजना
किसने शुरू कीमुख्यमंत्री सुखविंदर सिंह सुक्खू
राज्यहिमाचल प्रदेश
उद्देश्यअनाथ बच्चों का कल्याण करना
लाभार्थीहिमाचल प्रदेश के अनाथ बच्चे
हेल्पलाइन नंबरजल्द लांच होगा

हिमाचल प्रदेश सुखाश्रय योजना क्या है

हिमाचल प्रदेश के वर्तमान मुख्यमंत्री श्री सुखविंदर सिंह सुक्खू ने सुखाश्रय योजना की शुरुआत की है। जैसा कि आप जानते हैं, अनाथ बच्चे अकेले रहते हैं और अक्सर आपराधिक गतिविधियों में भी शामिल हो जाते हैं, इसलिए सरकार इस योजना में लाभार्थी के तौर पर पहले अनाथ बच्चों को शामिल करेगा। लेकिन सरकार द्वारा शुरू की गई इस योजना से अब अनाथ बच्चों को धन मिल सकेगा। आर्थिक सहायता मिलने से वह अपनी पढ़ाई कर सकेंगे और अपना घर बना सकेंगे। सरकार इस कार्यक्रम के तहत अनाथ बच्चों को पढ़ाया जाएगा, जब तक वे चाहते हैं। सरकार ने इसके लिए भी बजट बनाया है। इसलिए, यह योजना हिमाचल प्रदेश के अनाथ बच्चों के लिए बहुत ही लाभकारी होगी। हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री सुखविंदर सिंह सुक्खू ने राज्य के सभी कांग्रेसी विधायकों से इस योजना के लिए धन जुटाने की अपील की है। किसी विधायक को इस योजना में अपनी इच्छा के अनुसार धन देने का अधिकार है। किसी पर जबरदस्ती जोर नहीं है।

हिमाचल प्रदेश सुखाश्रय योजना का उद्देश्य

हिमाचल प्रदेश सरकार द्वारा शुरू की गई Mukhyamantri Sukhashraya Yojana का मुख्य उद्देश्य राज्य के वरिष्ठ नागरिकों, निराश्रित महिलाओं और अनाथ बच्चों को धन देना है। ताकि उन्हें जीवन भर संघर्ष नहीं करना पड़े। इस योजना के माध्यम से सरकार अनाथ बच्चों को 27 साल की आयु तक खाने-पीने से लेकर रहने और शिक्षा से संबंधित सभी प्रकार की सुविधाएं देगी। निराश्रित बच्चों का जीवन Mukhyamantri Sukhashraya Yojana से सुधर सकेगा। जिससे उनका भविष्य सुरक्षित होगा। और उन्हें स्वतंत्र और बलवान बनाया जा सकेगा।

हिमाचल प्रदेश सुखाश्रय योजना के लाभ एवं विशेषताएं

  • 16 फरवरी 2023 को हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री ठाकुर सुखविंदर सिंह सुक्खू जी ने राज्य के अनाथ बच्चों के लिए मुख्यमंत्री योजना की शुरुआत की घोषणा की है।
  • 6000 से अधिक अनाथ बच्चों को इस योजना से लाभ मिलेगा।
  • अनाथ बच्चों को राज्य सरकार चिल्ड्रन ऑफ स्टेट बनाएगी।
  • योजना में वरिष्ठ नागरिकों, निराश्रित महिलाओं, अनाथ बच्चों और विशेष रूप से असक्षम बच्चों को भी शामिल किया जाएगा।
  • मुख्यमंत्री सुख आश्रय योजना के तहत अनाथ बच्चों को रहने के लिए घर, भूमिहीन बच्चों को तीन बिस्वा जमीन और विवाह के लिए दो लाख रुपये का अनुदान दिया जाएगा।
  • इस योजना के लिए सरकार ने 101 करोड़ रुपये खर्च किए हैं।
  • सरकार अनाथ बच्चों को बेहतर शिक्षा प्रदान करने के लिए निशुल्क कोचिंग के साथ-साथ आवश्यक पाठ्यपुस्तकों को भी देगी।
  • इस योजना में महिलाओं और वृद्ध लोगों के लिए एकीकृत स्थान बनाए जाएंगे।
  • अनाथ आश्रम में रहने वाले बच्चों को आधुनिक क्लासरूम, बाथरूम, म्यूजिक रूम और बाहर और अंदर खेलने के लिए जगह मिलेगी।
  • 18 वर्ष से अधिक अनाथ बच्चों को आफ्टर केयर इंस्टिट्यूशन में 27 वर्ष की आयु तक रहने और भोजन की सुविधा दी जाएगी।
  • अनाथ बच्चों को इस योजना का लाभ मिल सकेगा।

मुख्यमंत्री सुख आश्रय योजना में कितना पैसा मिलेगा

  • मुख्यमंत्री सुख आश्रय योजना 2023 में संस्थानों में रहने वाले निराश्रित महिलाओं और अनाथ बच्चों के लिए आवर्ती खाता खोला जाएगा।
  • 0 से 14 वर्ष की आयु के बच्चों को सरकार हर महीने 1000 रुपये सीधे बैंक खाते में देगी। वहीं एकल महिलाओं और 14 से 18 वर्ष की आयु के अनाथ बच्चों को प्रति महीने 2500 रुपए की आर्थिक सहायता दी जाएगी।
  • इस योजना के तहत 18 वर्ष से अधिक आयु के बच्चों को एक लाख रुपये प्रति वर्ष कोचिंग और छात्रावास शुल्क के रूप में दी जाएगी।
  • इसके अलावा, कोचिंग के दौरान अनाथ बच्चों को हर महीने चार से चार हजार रुपए की छात्रवृत्ति दी जाएगी।
  • बच्चों के समग्र विकास के लिए हर महीने पिकनिक भी होंगे।
  • मुख्यमंत्री सुख आश्रय योजना के तहत ऐसे अनाथ बच्चों को जिनके पास रहने के लिए घर नहीं है, सरकार उन्हें तीन बिस्वा जमीन और घर बनाने के लिए तीन लाख रुपये देगी।
  • सरकार शादी के योग्य अनाथ बच्चों को दो लाख रुपये का अनुदान देगी।
  • इस योजना के तहत सरकार अनाथ बच्चों को 2 लाख रुपये की एकमुश्त राशि देगी जो स्वयं का उद्यम करना चाहते हैं।
  • हर साल, सरकार अनाथ आश्रम में रहने वाले बच्चों को हर त्योहार पर उत्सव मनाने के लिए पांच सौ रुपये देगी। ताकि बच्चे त्यौहार पर आवश्यक सामान खरीद सकें।

हिमाचल प्रदेश सुखाश्रय योजना में पात्रता

  • हिमाचल प्रदेश के मूल निवासी इस योजना में पात्र होंगे।
  • योजना केवल अनाथ बच्चों को शामिल करेगी।
  • निराश्रित महिलाएं और वरिष्ठ नागरिक भी इस योजना के लिए पात्र होगे।

हिमाचल प्रदेश सुखाश्रय योजना में दस्तावेज

  • आधार कार्ड
  • निवास प्रमाण पत्र
  • आय प्रमाण पत्र
  • उत्तीर्ण कक्षा की मार्कशीट
  • कोचिंग की सुविधा के लिए छात्रावास की रसीद
  • भूमिहीन होने का शपथ पत्र
  • बैंक खाता विवरण
  • बच्चे के माता पिता का मृत्यु प्रमाण पत्र
  • निराश्रित महिलाओं का शपथ पत्र
  • पासपोर्ट साइज फोटो
  • मोबाइल नंबर

मुख्यमंत्री सुख आश्रय योजना 2023 के तहत आवेदन कैसे करें?

मुख्यमंत्री सुख आश्रय योजना का लाभ लेने के लिए आपको अभी कुछ समय इंतजार करना होगा। क्योंकि मुख्यमंत्री सुख आश्रय योजना की घोषणा केवल अभी की गई है सरकार ने इस योजना में आवेदन करने से संबंधित कोई जानकारी नहीं दी है। इस योजना के तहत आवेदन करने से संबंधित जानकारी सरकार को दी जाएगी। इसलिए, इस लेख में हम आपको जानकारी देंगे ताकि आप इस योजना से लाभ प्राप्त कर सकें।

हिमाचल प्रदेश सुखाश्रय योजना हेल्पलाइन नंबर

अभी तक सरकार ने योजना के लिए कोई हेल्पलाइन नंबर या टोल फ्री नंबर नहीं बनाया है। योजना से संबंधित किसी भी जानकारी घर बैठे प्राप्त करने के लिए आपको कुछ समय इंतजार करना होगा, क्योंकि सरकार योजना से संबंधित हेल्पलाइन नंबर को इसी लेख में अपडेट करेगा, ताकि आप उस पर संपर्क करके अधिक जानकारी या योजना से संबंधित शिकायतें दर्ज कर सकें।

हिमाचल प्रदेश सुख-आश्रय योजना ताज़ा खबर

हिमाचल प्रदेश में अनाथ बच्चों के लिए शुरू की गई यह महत्वपूर्ण योजना बहुत ही कल्याणकारी है। इसलिए इस राज्य को राज्य की सुंदरता कहा जाता है। राज्य में चिन्हित किये गये 2,700 अनाथ बच्चों को इस योजना का लाभ मिलेगा। इसके लिए सरकार ने 4.68 करोड़ रुपये की सहायता दी है।

इस पोस्ट में आपको हिमाचल प्रदेश सुख-आश्रय योजना Mukhyamantri Sukhashray Yojana Himachal Pradesh in Hindi हिमाचल प्रदेश मुख्यमंत्री सुखाश्रय योजना 2023 मुख्यमंत्री सुखाश्रय योजना हिमाचल प्रदेश 2023 Himachal Pradesh CM launches Sukh Ashray Yojana Mukhyamantri Sukh Ashraya Yojana मुख्यमंत्री सुख आश्रय योजना हिमाचल प्रदेश सुखाश्रय योजना HP Sukhasraya Yojana 2023 हिमाचल प्रदेश सुखाश्रय योजना क्या है के बारे में बताया गया और आपको बताया गया है . अगर इसके अलावा आपका कोई भी सवाल या सुझाव हो तो नीचे कमेंट करके जरूर पूछें.

Himachal Pradesh Mukhyamantri Sukh Ashray Yojana – FAQ

सुखाश्रय योजना कौन से राज्य में चल रही है?
हिमाचल प्रदेश

सुखाश्रय योजना के लाभार्थी कौन होंगे?
हिमाचल प्रदेश के अनाथ बच्चे

सुखाश्रय योजना के तहत क्या लाभ मिलेगा?
अनाथ बच्चों को आर्थिक सहायता दी जाएगी

सुखाश्रय योजनाका लाभ लाभार्थी को कैसे मिलेगा?
इसके लिए आवेदन करना होगा

सुखाश्रय योजना को किसने शुरू किया?
मुख्यमंत्री सुखविंदर सिंह सुक्खू

सुखाश्रय योजना की आधिकारिक वेबसाइट क्या है?
जल्द लांच होगी

Show More
यौगिक किसे कहते हैं? परिभाषा, प्रकार और विशेषताएं | Yogik Kise Kahate Hain Circuit Breaker Kya Hai Ohm ka Niyam Power Factor Kya hai Basic Electrical in Hindi Interview Questions In Hindi