Electrical

त्वरण क्या है ? इसकी परिभाषा सूत्र और प्रकार

आज के इस article मे हम देखेंगे की त्वरण ( acceleration) क्या होता है इसे हम अपनी रोजमरा की लाइफ मे कैसे अनुभव कर सकते है तथा त्वरण कितने प्रकार का होता है व इसके उदाहरण सहित हम इसका सम्पूर्ण अध्यन करेंगे तो आये हम एक एक करके सभी topic को समझते है 

त्वरण क्या है ?

त्वरण( acciliration) –

त्वरण की परिभाषा देने से पहले हम इसे एक example के माध्यम से समझने की कोशिश करते हैं मान लीजिए किसी उचे स्थान पर खडा एक व्यक्ति एक पत्थर नीचे की तरफ गिराता है वह पत्थर धीरे-धीरे नीचे की तरफ गिरता है परंतु जैसे-जैसे व नीचे जाता  है उसका वेग बढ़ता जाता है अर्थात उसका वेग नियत नहीं रखता है 

चलो इसे हम एक अन्य उदाहरण के माध्यम से और समझने की कोशिश करते हैं

आप किसी कार में यात्रा कर रहे हैं जब आप किसी भीड़भाड़ वाले रास्ते से गुजरेंगे तो कार का speed धीरे कभी तेज होता रहता है car की speed समय के साथ बदलती जातीहै वह कभी धीरे होता है तो कभी तेज होती है इस प्रकार हम देखते हैं कि कार का वेग नियत नहीं रहता है समय के साथ बदलता जाता है

किसी गतिमान पिंड , कण, वस्तु  के समय के सापेक्ष ( respect) वेग को त्वरण ( acceleration) कहते है

त्वरण ( acceleration) को “a” से denote करते है 

       त्वरण ( a) =   वेग मे परिवर्तन 

                परिवर्तन मे लगा समय 

त्वरण (a) एक सदिश राशि होfती है 

        त्वरण का SI  मत्राक = मीटर / sec2  होता है 

          त्वरण (a) की विमा = [L1T-2] होती है

               त्वरण शून्य भी हो सकता है 

अब हम त्वरण ( acceleration) को एक question से समझते है 

Q.  एक car का वेग 0 m/sec है 2 sec के बाद इसका 10 m/s है तो इसका त्वरण ज्ञात कीजिये l

Ans.     a  = वेग मे परिवर्तन / परिवर्तन मे लगा समय 

           a =  10/ 2 

         a =  5 ms-2

Q. एक साईकल का वेग 5 m/s है 3 sec बाद इसका वेग 14m/s हो जाता है तो इसका acceleration ज्ञात कीजिये 

Ans.    

           a = V2-V1/ t2-t1

          V1= 5 m/s

          V2 = 14 m/s 

           t1= 0 sec

          t2 =   3 sec

         a =   14- 5/ 3

          a  =  9 / 3

         a =  3 m/ s-2

त्वरण ( acceleration) धनात्मक व  negative दोनों प्रकार का होता है 

धनात्मक ( positive ) त्वरण –  यदि किसी वस्तु की speed या velocity समय के साथ साथ बड़ रही हो तो वस्तु  या कण का त्वरण धनात्मक त्वरण होता है 
ऋणात्मक(Negative) त्वरण  –  यदि किसी वस्तु या कण की speed ( चाल) या velocity ( वेग) समय के साथ साथ घट  रहा हो तो वस्तु का त्वरण negative होता है इसे मंदन (retardation) भी कहते

त्वरण के प्रकार

 सामान्यतः त्वरण 4 प्रकार का होता है
1.एक समान त्वरण ( uniform acceleration)
2. त्वरण ( non-uniform acceleration)
3.औसत त्वरण ( average acceleration)
4.ताक्षणिक त्वरण ( instantaneous acceleration)

1.एक समान त्वरण ( uniform acceleration) –

यदि किसी कण के लिए समान समय अंतरालो मे यदि वेग मे परिवर्तन समान है तो कण का त्वरण एक समान त्वरण कहलाता है

Exam. किसी कण का वेग एक sec पर 2 m/s है 2 sec बाद इसका वेग 4m/s है 3 sec पर इसका वेग 6 m/s है इसमे हम देखते है हर एक sec बाद इसका वेग 2 m/sec बड़ रहा है अर्थात यह समान रूप से बड़ रहा है

2.असमान त्वरण ( non-uniform acciliration) –

यदि किसी कण के लिए समान समय अंतराल मे यदि वेग मे परिवर्तन असमान है तो वस्तु का त्वरण असमान त्वरण कहलाता है

Exam. माना किसी कण का वेग एक sec पर इसका वेग 3 m/s है 2 sec पर 10 m/s है और 3 sec बाद इसका वेग 14 m/s है तो इसमे हम देख रहे है की इसका वेग असमान रूप से बड़ रहा है

3. औसत त्वरण (average acceleration ) –

किसी कण के वेग मे हुए total परिवर्तन मे लगे total समय के अनुपात को औसत त्वरण कहते है
औसत त्वरण धनात्मक ( positive) या ऋणात्मक ( negative) दिनों तरह का हो सकता है

औसत त्वरण = कुल वेग मे परिवर्तन/ कुल समय

= V2-V2/t2-t1

= ΔV/Δt

4. तात्क्षणिक त्वरण (instantaneous acceleration) –

किसी निश्चित समय पर कण का त्वरण तत्क्षणिक त्वरण कहलाता है
या किसी क्षण विशेष पर कण का त्वरण तत्क्षणिक कहलाता है
तत्क्षणिक त्वरण = dV/ dt

a= dV/ dt

Show More
यौगिक किसे कहते हैं? परिभाषा, प्रकार और विशेषताएं | Yogik Kise Kahate Hain Circuit Breaker Kya Hai Ohm ka Niyam Power Factor Kya hai Basic Electrical in Hindi Interview Questions In Hindi